नसीर साहब की बात को अब सब भूल चुके हैं


Posted by-Kalki Team



राजेश खन्ना को कमज़ोर एक्टर कह कर विवादों में आए नसीरुद्दीन शाह ने अपनी टिपण्णी के लिए माफ़ी मांग ली है. इसके बाद अब राजेश खन्ना के बड़े दामाद अभिनेता अक्षय कुमार ने लोगों से इस मामले को भूलने की गुज़ारिश की है.

एक साक्षात्कार में नसीरुद्दीन शाह ने कहा था कि बॉलीवुड में अभिनय के गिरते मयार की शुरूआत राजेश खन्ना के दौर से हुई थी.

इस टिपण्णी से नाराज़ हुई राजेश खन्ना की बेटी ट्विंकल खन्ना ने नसीर साहब की ट्विटर पर आलोचना की थी. नसीरुद्दीन शाह ने अपने दिए बयान के लिए माफ़ी भी मांगी.

विवादों से अपने आप को दूर रखने वाले अक्षय कुमार जब अपनी आगामी फ़िल्म रुस्तम के लिए पत्रकारों से रूबरू हुए तो राजेश खन्ना और नसीरुद्दीन शाह के विवाद पर टिपण्णी करने से बचे. उन्होंने सलाह दी कि लोगों को अब इस प्रसंग को भूल जाना चाहिए.

उन्होंने कहा, "मेरा मानना है कि जिनके घर शीशे के होते हैं, वो दूसरों के घरों पर पत्थर नहीं फेंका करते. किसी बड़े विद्वान ने कहा है कि अपने काम से काम रखो. ये बात ख़त्म हो गई है. नसीर साहब ने इनायत से माफ़ी भी मांगी है. मैं चाहूंगा कि अब सब इस बात को भूल जाएं."

देशभक्ति की फ़िल्मों के बारे में अक्षय कुमार की तुलना मनोज कुमार से होने पर वो कहते हैं, "मनोज कुमार जी ने बेहद महान फ़िल्में की हैं. उनकी सभी फ़िल्में महान थीं. मेरी उनसे तुलना करना ग़लत है. मैं हॉउसफुल और ढिशूम जैसी अलग फ़िल्में कर अपनी इमेज बदलता रहता हूँ."

हाल ही में छोटे बजट की फ़िल्म जॉली एलएलबी के सीक्वल में अक्षय कुमार ने अरशद वारसी को रिप्लेस किया है. इस पर टिपण्णी करते हुए अक्षय कहते हैं, "फ़िल्म इंडस्ट्री में ऐसा होता रहता है. मेरी फ़िल्म वेलकम कोई और कर गया. हेराफेरी कोई और कर रहा है. किसी भी चीज़ पर किसी का जन्मसिद्ध अधिकार नहीं है."

साल 2016 में एयरलिफ्ट और हॉउसफुल 3 के बाद अक्षय एक और देशभक्ति वाली फ़िल्म रुस्तम ला रहे हैं. इसमें वो नौसेना अधिकारी के किरदार में नज़र आएंगे.

टीनू देसाई द्वारा निर्देशित रूस्तम में इलियाना डिक्रूज़ और ईशा गुप्त भी अहम् भूमिका में दिखेंगी. फ़िल्म 12 अगस्त को रिलीज़ हो रही है.


Post Comment

Post Comment